100
परमेश्‍वर की स्तुति का गीत
धन्यवाद का भजन
 
हे सारी पृथ्वी के लोगों, यहोवा का जयजयकार करो!
आनन्द से यहोवा की आराधना करो!
जयजयकार के साथ उसके सम्मुख आओ!
निश्चय जानो कि यहोवा ही परमेश्‍वर है
उसी ने हमको बनाया, और हम उसी के हैं;
हम उसकी प्रजा, और उसकी चराई की भेड़ें हैं*।
उसके फाटकों में धन्यवाद,
और उसके आँगनों में स्तुति करते हुए प्रवेश करो,
उसका धन्यवाद करो, और उसके नाम को धन्य कहो!
क्योंकि यहोवा भला है, उसकी करुणा सदा के लिये,
और उसकी सच्चाई पीढ़ी से पीढ़ी तक बनी रहती है।